Life (Zindagi) Shayari

Zindagi Mein Gham Nahi

Zindagi Mein Gham Nahi Life Shayari

जुगनुओं की रोशनी से तीरगी हटती नहीं,
आइने की सादगी से झूठ की पटती नहीं,
ज़िन्दगी में गम नहीं फिर इसमें क्या मजा,
सिर्फ खुशियों के सहारे ज़िन्दगी कटती नहीं।

Jugnuon Ki Roshni Se Teergi HatTi Nahi,
Aayine Ki Saadgi Se Jhoothh Ki PatTi Nahi,
Zindagi Mein Gham Nahi Fir Ismein Kya Maja,
Sirf Khushion Ke Sahare Zindagi KatTi Nai.

Mera Jism Purana Kar Ke

जाने कब आ के दबे पाँव गुजर जाती है,
मेरी हर साँस मेरा जिस्म पुराना करके।
Jaane Kab Aake Dabe Paanv Gujar Jaati Hai,
Meri Har Saans Mera Jism Purana Kar Ke.

पहचानूं कैसे तुझको मेरी ज़िन्दगी बता,
गुजरी है तू करीब से लेकिन नकाब में।
Pahchaanu Kaise Tujh Ko Meri Zindagi Bataa,
Gujri Hai Tu Kareeb Se Lekin Naqaab Mein.

[Read more Shayari...]

Nakaam Zindagi Ki Muqammal Kitab

फुरसत अगर मिले तो मुझे पढ़ना जरूर,
नाकाम ज़िंदगी की मुकम्मल किताब हूँ मैं।
Fursat Agar Mile To Mujhe Parhna Jaroor,
Nakaam Zindagi Ki Muqammal Kitab Hoon Main.

Sad Life Shayari Nakaam Zindagi Ki Muqammal Kitaab

रोज़ दिल में हसरतों को जलता देखकर,
थक चुका हूँ ज़िन्दगी का ये रवैया देखकर।
Roj Dil Mein Hasraton Ko Jalta DekhKar,
Thak Chuka Hoon Zindagi Ka Ye Ravaiya DekhKar.

बख्शा है ठोकरों ने सँभलने का हौसला,
हर हादसा ख्याल को गहराई दे गया।
Bakhsha Hai Thhokaron Ne Sambhalne Ka Hausla,
Har Haadsa Khayal Ko Gahraayi De Gaya.

Thodi Masti Thoda Sa Imaan

थोड़ी मस्ती थोड़ा सा ईमान बचा पाया हूँ,
ये क्या कम है अपनी पहचान बचा पाया हूँ,
कुछ उम्मीदें, कुछ सपने, कुछ महकती यादें,
जीने का मैं इतना ही सामान बचा पाया हूँ।

Thodi Masti Thoda Sa Imaan Bacha Paya Hoon,
Yeh Kya Kam Hai Apni Pahchaan Bacha Paya Hoon,
Kuchh Ummidein, Kuchh Sapne, Kuchh Mahekti Yaadein,
Jeene Ka Main Itna Hi Saman Bacha Paya Hoon.

Kitna Aur Badaloon Ai Zindagi

कितना और बदलूं खुद को
ज़िन्दगी जीने के लिए,
ऐ ज़िन्दगी, मुझको थोड़ा सा
मुझमें बाकी रहने दे।

Kitna Aur Badaloon Khud Ko
Zindagi Jeene Ke Liye,
Ai Zindagi Mujhko Thoda Sa
Mujh Mein Baki Rehne De.

[Read more Shayari...]