Dil Shayari

Manta Hi Nahi Kambakht Dil

Manta Hi Nahi Kambakht Dil Shayari

मानता ही नहीं कमबख्त दिल उसे चाहने से,
मैं हाथ जोड़ता हूँ तो ये गले पड़ जाता है।
Manta Hi Nahi Kambakht Dil Usey Chahne Se,
Main Haath Jodta Hoon To Ye Gale Pad Jata Hai.

न पूछ दिल की हकीक़त मगर ये कहता है,
वो भी बेक़रार रहे जिसने बेक़रार किया।
Na Poochh Dil Ki Hakiqat Magar Ye Kehta Hai,
Wo Bhi Bekaraar Rahe Jisne Bekarar Kiya.

[Read more Shayari...]

Dil Shayari, Iss Dil Ki Daastaan

इस दिल की दास्ताँ भी बड़ी अजीब होती है,
बड़ी मुश्किल से इसे ख़ुशी नसीब होती है,
किसी के पास आने पर ख़ुशी हो न हो,
पर दूर जाने पर बड़ी तकलीफ होती है।

Iss Dil Ki Daastaan Bhi Badi Ajeeb Hoti Hai,
Badi Mushkil Se Ise Khushi Naseeb Hoti Hai,
Kisi Ke Paas Aane Par Khushi Ho Na Ho,
Par Door Jaane Par Badi Takleef Hoti Hai.

[Read more Shayari...]

Humne To Dil Jala Kar

अब जिसके जी में आये वही पाये रौशनी,
हमने तो दिल जला कर सरेआम रख दिया।
Ab Jiske Jee Mein Aaye Wohi Paaye Roshani,
Humne To Dil Jala Kar Sar-e-Aam Rakh Diya.

मेरे लबों का तबस्सुम तो सबने देख लिया,
जो दिल पे बीत रही है वो कोई क्या जाने।
Mere Labon Ka Tabassum To Sabne Dekh Liya,
Jo Dil Pe Beet Rahi Hai Wo Koi Kya Jaane.

[Read more Shayari...]

Shayari Dil Ki Guzarish

फिर वही दिल की गुज़ारिश, फिर वही उनका ग़ुरूर,
फिर वही उनकी शरारत, फिर वही मेरा कुसूर।
Fir Wahi Dil Ki Guzarish Fir Wahi Unka Guroor,
Fir Wahi Unki Shararat, Fir Wahi Mera Qasoor.

Dil Shayari in Hindi - Dil Ki Guzarish

तेरी खामोशी जला देती है इस दिल की तमन्नाओं को,
बाकी सारी बातें अच्छी है तेरी तस्वीर में।
Teri Khamoshi Jala Deti Hai Iss Dil Ki Tamannao Ko,
Baaki Saari Baatein Achhi Hain Teri Tasvir Mein.

[Read more Shayari...]

Kisi Patthar Dil Se HumKo

काश उसे चाहने का अरमान न होता,
मैं होश में रहते हुए अनजान न होता,
ना प्यार होता किसी पत्थर दिल से हमको,
या फिर कोई पत्थर दिल इंसान न होता।
Kaash Usey Chahne Ka Armaan Na Hota,
Main Hosh Mein Rehte Huye Anjaan Na Hota,
Na Pyar Hota Kisi Patthar Dil Se HumKo,
Ya Fir Koi Patthar Dil Insaan Na Hota.

[Read more Shayari...]