Read Intezaar Shayari in Hindi

Iss Ko Kahete Hain Intezaar

ये जो पत्थर है आदमी था कभी,
इस को कहते हैं इंतज़ार मियां।
Ye Jo Patthar Hai Aadmi Tha Kabhi,
Iss Ko Kehte Hain Intezaar Miyaan.

रात क्या होती है हमसे पूछिए,
आप तो सोये सवेरा हो गया।
Raat Kya Hoti Hai Hum Se Poochhiye,
Aap To Soye Savera Ho Gaya.

हर आहट पर साँसें लेने लगता है,
इंतज़ार भी भला कभी मरता है।
Har Aahat Par Saanse Lene Lagta Hai,
Intezaar Bhi Bhala Kabhi Marta Hai.

Laut Ke Kab Aate Hain

बस यूँ ही उम्मीद दिलाते हैं ज़माने वाले,
लौट के कब आते हैं छोड़ कर जाने वाले।
Bas Yoon Hi Umeed Dilate Hain Zamane Wale,
Laut Ke Kab Aate Hain Chhod Kar Jaane Wale.

Laut Ke Kab Aate Hain Intezaar Shayari

हालात कह रहे हैं मुलाकात नहीं मुमकिन,
उम्मीद कह रही है थोड़ा इंतज़ार कर।
Haalaat Keh Rahe Hain Mulakaat Nahi Mumkin,
Ummeed Keh Rahi Hai Thhoda Intezaar Kar.

[Read more Shayari...]

Kisi Ka Intezaar Kya Karte

आप करीब ही न आये इज़हार क्या करते,
हम खुद बने निशाना तो शिकार क्या करते,
साँसे साथ छोड़ गयीं पर खुली रखी आँखें,
इस से ज्यादा किसी का इंतज़ार क्या करते।

Aap Kareeb Hi Na Aaye Izhaar Kya Karte,
Hum Khud Bane Nishana To Shikaar Kya Karte,
Saanse Saath Chhod Gayi Par Khuli Rakhi Aankhein,
Iss Se Jyada Kisi Ka Intezaar Kya Karte.

Der Se Intezaar Hai Apna

बेखुदी ले गई कहाँ हमको,
देर से इंतज़ार है अपना,
रोते फिरते हैं सारी-सारी रात,
अब यही बस रोज़गार है अपना।

BeKhudi Le Gayi Kahan Humko,
Der Se Intezaar Hai Apna,
Rote Firte Hain Saari-Saari Raat,
Ab Yahi Bas Rozgaar Hai Apna.

[Read more Shayari...]

Shayari Intezaar Hai Saath Sahara Bankar

कोई मिलता ही नहीं हमसे हमारा बनकर,
वो मिले भी तो एक किनारा बनकर,
हर ख्वाब टूट के बिखरा काँच की तरह,
बस एक इंतज़ार है साथ सहारा बनकर।

Koyi Milta Nahi Hum Se Humara Bankar,
Wo Mile Bhi To Ek Kinara Bankar,
Har Khwaab Toot Ke Bikhra Kaanch Ki Tarah,
Bas Ek Intezaar Hai Saath Sahara Bankar.

Tera Intezaar Shayari in Hindi

[Read more Shayari...]