Shayari Zindagi Sirf Mohabbat Nahi

Advertisement

ज़िन्दगी सिर्फ मोहब्बत नहीं कुछ और भी है,
ज़ुल्फ़-ओ-रुखसार की जन्नत नहीं कुछ और भी है,
भूख और प्यास की मारी हुई इस दुनिया में,
इश्क ही इक हकीकत नहीं कुछ और भी है।

Zindagi Sirf Mohabbat Nahi Kuchh Aur Bhi Hai,
Zulf-o-Rukhsaar Ki Jannat Nahi Kuchh Aur Bhi Hai,
Bhookh Aur Pyaas Ki Maari Huyi Iss Duniya Mein,
Ishq Hi Ek Hakiqat Nahi Kuchh Aur Bhi Hai.

Advertisement

Zindagi Sirf Mohabbat Nahi - Life Shayari

Advertisement

Zindagi Uss Ajnabi Mod Par

Life Shayari, Gujar Gayi Meri Bhi Zindagi

Advertisement

You may also like