Shayari in Hindi | हिंदी शायरी

Advertisement

Aapko Lag Jaye Meri Umar

Friendship Shayari Aapko Lag Jaye Meri Umr

वो बात क्या करूँ जिसकी खबर ही न हो,
वो दुआ क्या करूँ जिसमें असर ही न हो,
कैसे कह दूँ दोस्त आपको लग जाये मेरी उम्र,
क्या पता अगले पल मेरी उम्र ही न हो।

Wo Baat Kya Karoon Jiski Khabar Hi Na Ho,
Wh Duaa Kya Karoon Jiska Asar Hi Na Ho,
Kaise Keh Doon Dost Aapko Lag Jaye Meri Umar,
Kya Pata Agle Pal Meri Umar Hi Na Ho.

Advertisement

Jahan Qatil Hi Khud Poochhe

ऐसे माहौल में दवा क्या है दुआ क्या है,
जहाँ कातिल ही खुद पूछे कि हुआ क्या है?
Aise Mahaaul Mein Davaa Kya Hai Duaa Kya Hai,
Jahan Qatil Hi Khud Poochhe Ke Hua Kya Hai?

जिसकी कफस में आँख खुली हो मेरी तरह,
उसके लिये चमन की खिजाँ क्या बहार क्या।
Jiski Kafas Mein Aankh Khuli Ho Meri Tarah,
Uske Liye Chaman Ki Khizaan Kya Bahaar Kya.

Advertisement

Dost Kuchh Khaas Maange Hain

अंधेरों के लिए कुछ आफताब माँगे हैं,
अपने लिए हमने दोस्त कुछ ख़ास माँगे हैं,
जब भी दुआ में कुछ माँगा है खुदा से,
तो आपके लिए खुशी के लम्हात माँगे हैं।

Andhero Ke Liye Kuchh Aaftab Maange Hain,
Apne Liye Humne Dost Kuchh Khaas Maange Hain,
Jab Bhi Duaa Mein Kuchh Maanga Hain Khuda Se,
To Aapke Liye Khushi Ke Lamhaat Maange Hain.

Advertisement

Marne Ki Shayari, Naamo-Nishaan Ki Fikr

बादे-फना फिजूल है नामोनिशां की फिक्र,
जब हम नहीं रहे तो रहेगा मज़ार क्या?
Baad-e-Fanaa Fizool Hai Naamo-Nishaan Ki Fikr,
Jab Hum Nahi Rahe To Rahega Mazaar Kya.

अब तो घबरा के ये कहते हैं कि मर जायेंगे,
मर के भी चैन न पाया तो किधर जायेंगे।
Ab To Ghabra Ke Ye Kehte Hai Ki Mar Jaayenge,
Mar Ke Bhi Chain Na Paaya To Kidhar Jaayenge.

Advertisement

Shayari Ai Dost Jab Tu Udaas Hoga

ऐ दोस्त जब कभी तू बहुत उदास होगा,
मेरा ख्याल तेरे दिल के आस-पास होगा,
दिल की गहराईयों से जब भी करेगा याद,
तुझे हमारे करीब होने का एहसास होगा।

Ai Dost Jab Kabhi Tu Bahut Udaas Hoga,
Mera Khayal Tere Dil Ke Aas-Paas Hoga,
Dil Ki Gaheraiyon Se Jab Bhi Karega Yaad,
Tujhe Humaare Kareeb Hone Ka Ehsaas Hoga,