1. Home
  2. Two Line Shayari
  3. Two Line Shayari, Roshan Deeya

Two Line Shayari, Roshan Deeya

Advertisement

मैं एक शाम जो रोशन दीया उठा लाया,
तमाम शहर कहीं से हवा उठा लाया।
Main Ek Shaam Jo Roshan Deeya Uthha Laya,
Tamaam Shahar Kahin Se Hawa Uthha Laya.

नजरों में दोस्तों की जो इतना खराब है,
उसका कसूर ये है कि वो कामयाब है।
Najron Mein Doston Ki Jo Itna Kharab Hai,
Uska Qasoor Ye Hai Ki Wo Kaamyab Hai.

Advertisement

उसकी जीत से होती है ख़ुशी मुझको,
यही जवाब मेरे पास अपनी हार का था।
Uski Jeet Se Hoti Hai Khushi Mujhko,
Yahi Jawaab Mere Paas Apni Haar Ka Tha.

ये जो हालात हैं एक रोज सुधर जायेंगे,
पर कई लोग मेरे दिल से उतर जायेंगे।
Ye Jo Halaat Hain Ek Roj Sudhar Jayenge,
Par Kayi Log Mere Dil Se Utar Jayenge.

Advertisement

Main Khali Haath Aaya Hoon

Shayar Banaa Gaya Mujhko