Beautiful Love Shayari, Mohabbat Ka Jurm

Advertisement

अकेले हम ही शामिल नहीं हैं इस जुर्म में,
नजर जब मिली थी मुस्कराये तुम भी थे।
Akele Hum Hi Shamil Nahi Iss Jurm Mein,
Najar Jab Mili Thi Muskuraye Tum Bhi The.

दुनिया तेरे वजूद को करती रही तलाश,
हमने तेरे ख्याल को दुनिया बना लिया।
Duniya Tere Wajood Ko Karti Rahi Talaash,
HumNe Tere Khayal Ko Duniya Bana Liya.

Advertisement

क्या हसीन इत्तेफाक है उनकी गली में हम,
एक काम से गए थे और हर काम से गए।
Kya Haseen Ittefaq Hai Unki Gali Mein Hum,
Ek Kaam Se Gaye The Aur Har Kam Se Gaye.

मुश्किल नहीं था इश्क़ की बाज़ी को जीतना,
बस जीतने के खौफ से खुद को हारे चले गए।
Mushkil Nahi Tha Ishq Ki Baazi Ko Jeetna,
Bas Jeetne Ke Khauf Se Haare Chale Gaye.

आ जाते हैं वो भी रोज ख्वाबों में,
जो कहते हैं हम तो कहीं जाते ही नहीं।
Aa Jaate Hai Woh Roj Khwaabon Mein,
Jo Kahete Hain Hum To Kahin Jaate Hi Nahi.

Advertisement

Teri Chahat Ka Junoon

Aankhein Dil Ki Jubaan

Advertisement

You may also like