1. Home
  2. Gam Shayari
  3. Ab Milne Ka Gham Hoga

Ab Milne Ka Gham Hoga

Advertisement

तुझे पाने की कोशिश में कुछ इतना खो चुका हूँ,
तू मिल भी अगर जाये तो अब मिलने का ग़म होगा।
Tujhe Paane Ki Koshish Mein Kuchh Itna Kho Chuka Hoon,
Tu Mil Bhi Agar Jaaye To Ab Milne Ka Gham Hoga.

Tere Milne Ka Gham Shayari Hindi

Advertisement

बदल जाते है ज़िन्दगी के मायने उस वक़्त,
जब कोई तुम्हारा, तुम्हारे सामने, तुम्हारा नहीं होता।
Badal Jaate Hain Zindagi Ke Mayane Uss Waqt,
Jab Koi Tumhara, Tumhare Samne, Tumhara Nahi Hota.

है अगर तुझको तवक्को मैं बिछड़ कर ग़मज़दा हूँ
तो मुझे समझा नहीं तू, ग़म रहेगा बस इस बात का।
Hai Agar Tujhko Tawakko Main Bichhad Kar GhamZada Hoon,
To Mujhe Samjha Nahi Tu, Gham Rahega Bas Iss Baat Ka.

रहा है साबिका ग़म से यहाँ तक हमनशीं मुझको,
खुशी के नाम से भी अश्क आँखों में भर आते हैं।
Raha Hai Sabika Gham Se Yahan Tak HumNashin Mujhko,
Khushi Ke Naam Se Bhi Ashq Aankhon Mein Bhar Aate Hain.

Advertisement

Kasam Apni Bhulaai Tumne

Sun Kar Meri Daastaan-e-Gham